क्या अब अब देशभगतों की जगह जुर्म के बादशाहों की हमायत होगी ?

deshसिख कट्टड़पंथी और अलगाववादी लहर को हवा देने वाले कई संस्थान इस वर्ष के मई महीने में जेनेवा के अन्दर भारत में काबू किये गये आतंकवादी संगठनों के पक्ष में एकत्र हुए थे. हैरानी की बात है कि इस भारी सम्मेलन को संबोधन करने वाले और इसका संचालन करने वाले कई कारजकरता भारत में बीते समय दौरान किसी न किसी कट्टड़पंथी जथे से किसी ना किसी रूप से जुड़े हुए हैं अथवा भारत छोड़ने से पहले वह स्वयं इन गतिविधिओं में गलतान थे. जिस के संबंध में उन की ओर से अपने मौजूदा देश की सरकार को मानवी अधिकारों के बारे अधार्हीण जानकारी दे कर विचारगी दिखाने का डरामा करते हैं। बीते दिनोंपर की गई यह धांधली जेल में हारट अटैक से मृतक पाये गये हरमिंदर सिंह मिंटू के पक्ष में हुई।जगतार सिंह जौहल, गुरप्रीत सिंह गुरदासपुर, जगतार सिंह तारा, गुरदेव सिंह जज्जा भी इस जेल में कट्टड़पंथी और अलगाववादी गतिविधिओं के तहत सजा याफता है। नाभा जेल तोड़ केस में मशहूर हुए हरमिंदर मिंटू अपने आप को खालिसतान लिबरेशन फोरस का चीफ बताता था। जिस पर पंजाब के अन्दर अंदाजन 10 से अधिक आतंकवादी गतिविधिओं से सम्बन्धित केस दर्ज था। इस को नवम्बर 2014 में पंजाब पुलिस की ओर से अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा दिल्ली से उस समय गृफ़तार किया गया, जब वह थाईलैंड से भारत वापस लौटा था। जगतार सिंह जौहल को बीते वर्ष गृफ़तार किया गया। जौहल को जगदीश गंगनेजा, रविंदर गौंसाई जैसे हिंदू लीडर को फिरौती दे कर मरवाये जाने के दोष तहत 2017 में गृफ़तार किया गया। जौहल पर दोष है कि उस की ओर से फिरौती की रकम मुहैया करवाने के अलावा खालिसतान लिबरेशन फोरस को शस्त्र भी आपूर्ति किये गये। जगतार सिंह तारा जो कि लम्बे समय से पुलिस हिरासत में है, और वह भूतपूर्व मुख्य मंत्री बेअंत सिंह को कत्ल करने का अपराधी है और संपूर्ण घटनाक्रम को अंजाम देने का मास्टर माईंड है। गुरप्रीत सिंह गुरदासपुर और गुरदेव सिंह जज्जा को विभक्त जुर्मों तहत थाईलैंड से डिपोर्ट किया गया था। इन के साथी जहाँ इन को सिख कौम के आज़ादी सुरमे घोशित करना चाहते है, वहां इन का मुख्य मकसद हरमिंदर मिंटू की मृत्यु को मुहरा बना यू ऐन ओ अंदर शोर डालने की कोशिश है। जहाँ सिख संगठन अधिकारों की बात करते हैं, वहां उन को यह विचार लेना जरूरी है कि उन की ओर से किसी ऐसे व्यक्ति की हमायत न हो, जो आज़ादी सुरमा न हो कर जुर्म की दुनिया का बादशाह हो।