खेल खेल में योग

khyपतंजलि योग पीठ हरिद्वार के निर्देशन में सेवारत पतंजलि योग समिति, भारत स्वाभिमान ट्रस्ट, महिला पतंजलि, किसान सेवा समिति व युवा भारत के कार्यकर्ता योग दिवस की तैयारी में हर वर्ग को योग के साथ जोड़ने का कार्य कर रहे हैं। बच्चों को योग का पाठ पढ़ाने हेतु संगठन ने खेल खेल में योग नामक योग पैकेज तैयार किया है। जिसमें बच्चों के लिए उपयोगी योग की क्रियाओं का अभ्यास करवाया जाता है। युवा भारत के जिला प्रभारी प्रवेश कुमार ने बताया कि आज के समय में हर वर्ग मानसिक व शारीरिक विकारों से पीड़ित हैं। यदि बचपन से ही बच्चों में योग करने की आदत बना दी जाए तो वे भविष्य में आने वाली स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से बचे रहेंगे और अच्छे नागरिक बनेंगे। क्योंकि जो योगी है, निरोगी है,वही उपयोगी है । पतंजलि योग समिति के जिला प्रभारी राजिंदर बावा ने बताया कि बच्चों के लिए उपयोगी आसन मकरासन,हलासन , ताड़ासन , सिंहासन , चक्रासन आदि का अभ्यास बड़े ही सुन्दर व सहज ढंग से करवाया जाता है जिसे बच्चे बड़े चाव से कर रहे हैं। बच्चों की दिलचस्पी बनाए रखने के लिए प्रेरणा दायक कहानियां तथा नृत्य एवं कविता पाठ आदि भी कराया जाता है। अपने बच्चों को इस कार्यक्रम का हिस्सा बनाने हेतु पतंजलि  द्वारा आयोजित किसी भी योग कक्षा में संपर्क किया जा सकता है।